प्रेम,पिता,जीवन

मैं पिता के सामने
हमेशा खामोश रहा
तब भी
जब वे ग़लत थे।

मैं खूब किताबें पढ़ता हूं
ताकि पिता से बोल सकूं
की आप ग़लत है।


समाचार बुरा है बेटू खत्म हो गया |

मानो जीवन एक कहानी,
एक सुरंग,
एक रास्ता,
एक गीत है,
जो खत्म हो गया।


प्रेम के कई रूप होते है
मेरे जीवन में वो अभाव के रूप में था।

वो अभाव,
जो एक बिना मां के बच्चे
और एक कम उम्र की लड़की के
साथ रहने की असहजता से 
उत्पन्न होती है ।

Navigating between politics, philosophy, and literature.